25.2 C
Rishikesh
Saturday, May 28, 2022

नीम की छाल का उपयोग: इन 5 समस्याओं का रामबाण इलाज है नीम की छाल, जानें इसके इस्तेमाल का तरीका

- Advertisement -

नीम की छाल का उपयोग:  इन 5 समस्याओं का रामबाण इलाज है नीम की छाल, जानें इसके इस्तेमाल का तरीका

नीम की पत्तियों और इसकी निबौरी के फायदे के बारे में तो आपने सुना होगा, पर क्या आपने नीम की छाल के फायदे के बारे में सुना है? जी हां, नीम की छाल जिसे बहुत कम लोग ही इस्तेमाल करते हैं, वो असल में कई स्वास्थ्य समस्याओं में मददगार है। दरअसल, नीम की छाल को पीस कर लोग इससे पाउडर के फेस पैक बनाते हैं। इसके अलावा इसकी छाल का लेप फोड़े-फुंसी जैसी परेशानियों को कम कर सकता है। वो ऐसे कि नीम की छाल में एंटी बैक्टीरियल गुण होते हैं जो कि त्वचा के बैक्टीरिया और वायरस को कम कर सकता है। इसके अलावा नीम के छाल में एंटीफंगल गुण भी होते हैं जो कि फंगल इंफेक्शन को भी दूर करता है। तो, आइए जानते हैं नीम की छाल के फायदे (neem chhal ke fayde) और इसके इस्तेमाल का तरीका। 

Inside_neembark

नीम की छाल के फायदे-Neem chhal benefits

1. चोट लग जाने पर या जल जाने पर 

नीम की छाल का लेप बना कर आप चोट में या घाव पर लगा सकते हैं। दरअसल, नीम की छाल में एंटीसेप्टिक गुण होता है जो कि चोट या घाव को ठीक करने में मददगार है। इसे इस्तेमाल करने के लिए नीम की छाल को पीस कर रख लें। फिर इसमें हल्का सा हल्दी पाउडर मिलाएं या फिर चंदन पाउडर मिलाएं। अब इसे अपने घाव पर या जले पर लगाएं। गहरा घाव होने पर इसे दिन भर में कई बार लगाएं। ये आपके घाव को ठीक करने में मददगार है।

इसे भी पढ़ें : अजवाइन के फूल के फायदे: इन 7 समस्याओं में अजवाइन के फूलों के इस्तेमाल से मिल सकता है फायदा

2. फोड़े होने पर

नीम की छाल को पीस लें और इसमें कपूर मिला कर फोड़े पर लगाएं। फिर इसे एक कपड़े से बांध लें। अगर आपके फोड़े में मवाद भर गया होगा तो इससे भट कर खुद ही बाहर आ जाएगा। इसके अलावा ये फोड़े को पूरी तरह से ठीक करता है। दरअसल, नीम की छाल में सबसे ज्यादा एंटीबैक्टीरियल गुण होता है जो कि फोड़े के बैक्टीरिया को मारता है और इसे बड़ा होने से रोकता है। इस तरह ये पूरी तरह से फोड़े को ठीक करने में मदद करते हैं।

3. पीठ में दाने और खुजली में

कुछ लोगों की पीठ में पूरे साल दाने निकलते हैं और खुजली होता रहता है। ऐसे में नीम की छाल को उबाल कर उसके पानी का इस्तेमाल करें। दरअसल,  नीम की छाल को जब आप पानी में उबालते हैं तो ये पानी एंटीबैक्टीरियल, एंटीफंगल और एंटीसेप्टिक हो जाता है जिसके इस्तेमाल से पीठ के दाने ठीक हो जाते हैं या कहें कि खुजली की समस्या दूर हो जाती है। साथ ही जिन लोगों को एक्जिमा आदि होता है उसके लिए भी ये देसी इलाज की तरह काम करता है। साथ ही इस पानी का एक फायदा ये भी है कि आप इसे बना कर लंबे समय तक के लिए रख सकते हैं और फिर इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।

Inside_skincare

4. स्किन के लिए फायदेमंद

अगर आपकी स्किन पर लगातार एक्ने की समस्या रहती है तो आपको नीम की छाल को पीस कर अपने चेहरे पर लगाना चाहिए। इसका एंटी बैक्टीरियल गुण एक्ने को कम करता है। इसके अलावा ये चेहरे से दाग-धब्बों को साफ करने में भी मददगार है। 

इसे भी पढ़ें : 6 परेशानियों को दूर करने में है लाभकारी कायफल का तेल, जानें इसे बनाने की विधि

5. बालों के लिए फायदेमंद

अगर आपके स्कैल्प पर परतदार डैंड्रफ है तो, आप नीम की छाल का इस्तेमाल कर सकते हैं। आप नीम की छाल के पानी को अपने स्कैल्प में लगा सकते हैं या इससे अपने बालों को धो सकते हैं। इसका एंटीबैक्टीरियल गुण स्कैल्प को साफ करता है और डैंड्रफ की समस्या को दूर करता है। इसके अलावा आप नीम की छाल को तेल में पका कर तेल भी तैयार कर सकते हैं। इसे बालों में लगाने से आपको आगे कभी भी डैंड्रफ की समस्या नहीं होगी।

इस तरह आप शरीर की इन पांच परेशानियों में अलग-अलग तरीके से नीम की छाल का इस्तेमाल कर सकते हैं। साथ ही आप नीम की छाल का चूर्ण बना कर या फिर इसका पानी भी पी सकते हैं। ये पेट के कीड़ों को मारता है और खून को साफ करता है। 

all images credit: freepik

- Advertisement -

Related Articles

Latest Articles